Sunday, January 25, 2015

मेरे गीतों में मेरी कहानियाँ हैं


मेरे गीतों में मेरी कहानियाँ हैं कलियों का बचपन हैं, फूलों की जवानियाँ हैं रुत पे बहार हैं, दिल बेकरार हैं, कुछ इंतजार सा हैं कहते हैं सारे, हो ना हो प्यारे, ये हाल प्यार का हैं ये मोहब्बत की पहली निशानियाँ हैं ऐ दिल दीवाने, दुनियाँ क्या जाने, क्यो गीत गाता हू मैं गीतों के बहाने, दिल के फसाने, उसको सुनाता हू मैं जिसकी मुझ पे बड़ी मेहरबानियाँ हैं दिलकश कमाल सी, नाज़ूक ख़याल सी, डाली गुलाब की हैं लड़की हैं लेकिन लगता हैं वो एक बोतल शराब की हैं उसकी अखियाँ बड़ी मसतानियाँ हैं